Breaking NewsLIVE TVअपराधताजा ख़बरेंराजनीतिलाइफस्टाइलस्वास्थ्य

इटली में फंसे भारतीय छात्र, No-Corona सर्टिफिकेट नहीं होने से वापसी मुश्किल

इटली गए हुए भारतीय छात्र कोरोना वायरस की वजह से फंस गए हैं. कई छात्र अभी भी रोम के एयरपोर्ट पर फंसे हुए हैं और वापसी की राह ताक रहे हैं.
कोरोना वायरस की चपेट में आने के बाद मानो दुनिया ठहर सी गई है. कई देशों ने अपने यहां विदेशियों की एंट्री पर रोक लगा दी है तो हजारों फ्लाइट्स रद्द की जा रही हैं. इस वजह से दूसरे देशों में गए हुए नागरिक फंस गए हैं, भारत से इटली गए कुछ टूरिस्ट भी एयरपोर्ट पर फंसे हुए हैं. रोम के अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर दर्जनों भारतीय छात्र फंसे हुए हैं और भारत वापस आने की राह में हैं.

बता दें कि एयर इंडिया की ओर से कहा गया है कि जबतक कोई भी यात्री नो-कोरोना सर्टिफिकेट नहीं दिखा पाएगा, तबतक उन्हें फ्लाइट में नहीं बैठाया जाएगा. जबकि छात्रों का कहना है कि इटली के डॉक्टर अभी स्थानीय लोगों से निपट रहे हैं, ऐसे में विदेशियों को कोई भी अस्पताल या डॉक्टर हेल्थ क्लीरियंस नहीं दे रहा है.

इटली में फंसे हुए इन छात्रों ने हैदराबाद के एक्टिविस्ट अमजेद उल्लाह खान से संपर्क किया और मदद की गुहार लगाई.
एक्टिविस्ट की ओर से इस मसले को विदेश मंत्री एस. जयशंकर के सामने उठाया गया है और भारतीय छात्रों की मदद की अपील की है. इसके बाद अब इटली में मौजूद भारतीय दूतावास जल्द ही इन छात्रों से संपर्क कर सकता है.

आपको बता दें कि दुनियाभर में अबतक चीन के बाद इटली में ही कोरोना वायरस की वजह से सर्वाधिक मौत हुई हैं. यहां अबतक 827 लोगों की मौत इस वायरस की वजह से हुई है. इटली में लगातार बढ़ते मामलों के बाद ही एयर इंडिया ने भी इटली जाने वाले अपनी सभी फ्लाइट्स को रद्द कर दिया है, 28 मार्च तक इन फ्लाइट्स को रद्द कर दिया गया है.
भारत सरकार ने कोरोना वायरस को लेकर अलर्ट जारी कर दिया है और दुनियाभर से आने वाले लोगों की एंट्री पर बैन लगा दिया गया है. 15 अप्रैल तक जारी सभी वीज़ा को रद्द कर दिया गया है, ऐसे में किसी का भी भारत आना आसान नहीं होगा. हालांकि, जो भारतीय बाहर हैं वो 14 दिन की निगरानी में आने के बाद ही वापस आ सकेंगे.

Related Articles

Back to top button
x

COVID-19

India
Confirmed: 29,439,989Deaths: 370,384
Close